ब्लॉग मित्र मंडली

1/1/11

यह भोर सुहानी भोर हो !


नवल सूर्य नव वर्ष कादे स्नेहिल संस्पर्श!
 पल-प्रतिपल हो हर्षमय, पथ-पथ पर उत्कर्ष!!


प्रस्तुत है एक गीत
भोर सुहानी
यह भोर सुहानी भोर हो !
प्राची में केशर ढुलके,
पूरे भूमंडल पर छा जाए !
आलोकित नव दिनकर
जगती का तिमिर-तुमुल झुलसा जाए !
आकंठ आनंदित दसों दिशाएं,
सुख समृद्धि चहुं ओर हो !
यह भोर सुहानी भोर हो !!
संदेश सहस्रों आशाओं के
आगत क्षण-क्षण ले आएं !
अवसाद मिटें, भ्रम-जाल कटें,
मिल जाएं बिछोही ; मुसकाएं !
विश्वास-वृष्टि में आर्द्र-सजल,
आह्लादित हर दृग-कोर हो !  
यह भोर सुहानी भोर हो !!
अवनी के कण-कण , जल में ,
पवन में अमृत-जीवन सरसाए !
निज कर्म-लीन तल्लीन हो'
हर प्राणी झूमे-नाचे-गाए !
ना कोई व्यथित, मन-मन प्रमुदित हो,
निकट-निकट हर छोर हो !
यह भोर सुहानी भोर हो !!

- राजेन्द्र स्वर्णकार 
(c)copyright by : Rajendra Swarnkar


*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*
 यह गीत यहां सुनें मेरे स्वर में

(c)copyright by : Rajendra Swarnkar
*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*



१ १ १ १
११११शुभकामनाएं मंगलकामनाएं११११
१ १ १ १



*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*۞۩۩۞*≈▒▒≈*

43 टिप्‍पणियां:

एस एम् मासूम ने कहा…

नववर्ष आपके लिए मंगलमय हो और आपके जीवन में सुख सम्रद्धि आये…एस.एम् .मासूम

डॉ टी एस दराल ने कहा…

अभी तो
नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें ।
गीत सुबह सुनेंगे भाई ।

उपेन्द्र नाथ ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति..... नये वर्ष २०११ की हार्दिक शुभकामनाएं ..

उपेन्द्र नाथ ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति..... नये वर्ष २०११ की हार्दिक शुभकामनाएं ..

सुज्ञ ने कहा…

आपके इस स्वागत गीत में हामारे भी स्वर मिले
आपके लिये ढेरों शुभकामनाएँ!!

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

आपको भी शुभकामनायें।

राज भाटिय़ा ने कहा…

नया वर्ष आप के ओर आप के परिवार के लिये सुख मय हो ओर देश भर मे खुशियां ले कर, सुख ले कर आये, मेरी शुभकामनाऎं आप सब के संग हे!! मेरा यह नये साल का उपहार आप सब के लिये हे..
http://blogparivaar.blogspot.com/

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' ने कहा…

बहुत अच्छी रचना में सभी के लिए दुआएं हैं...
आपको भी नए साल की बहुत बहुत मुबारकबाद.

मनोज कुमार ने कहा…

सर्वस्तरतु दुर्गाणि सर्वो भद्राणि पश्यतु।
सर्वः कामानवाप्नोतु सर्वः सर्वत्र नन्दतु॥
सब लोग कठिनाइयों को पार करें। सब लोग कल्याण को देखें। सब लोग अपनी इच्छित वस्तुओं को प्राप्त करें। सब लोग सर्वत्र आनन्दित हों
सर्वSपि सुखिनः संतु सर्वे संतु निरामयाः।
सर्वे भद्राणि पश्यंतु मा कश्चिद्‌ दुःखभाग्भवेत्‌॥
सभी सुखी हों। सब नीरोग हों। सब मंगलों का दर्शन करें। कोई भी दुखी न हो।
बहुत अच्छी प्रस्तुति। नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनाएं!

साल ग्यारह आ गया है!

The Serious Comedy Show. ने कहा…

नव वर्ष का बहुत सुन्दर स्वागत.साधुवाद.
आपकी आवाज़ भी बहुत मधुर है.

यह सस्वर कैसे पोस्ट किया बताइएगा.

Sadhana Vaid ने कहा…

बहुत ही सुन्दर शुभकामनायें आपकी रचना ने प्रसारित की हैं ! सद्भावनापूर्ण से परिपूर्ण इतने सार्थक लेखन के लिये आपका हृदय से साधुवाद ! नव वर्ष पर आपको व आपके समस्त परिवार को हार्दिक शुभकामनायें ! यह वर्ष हर प्रकार से मंगलमय हो यही कामना है !

Rajesh Kumar 'Nachiketa' ने कहा…

NAYE SAAL KA SWAAGAT...
AUR SABHEE KO NAV VARSH KI MANGALKAAMNAA...
AAPKA MERE BLOG PAR AA KAR PROTSAAHAN KE LIYE DHANYAWAAD..
RAJESH

केवल राम ने कहा…

आदरणीय राजेन्द्र स्वर्णकार जी
आपको नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनायें...स्वीकार करें

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

सुमधुर आवाज़,नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें.

सदा ने कहा…

नववर्ष की ढेर सारी शुभकामनाओं के साथ इस बेहतरीन प्रस्‍तुति के लिये बधाई ।

vandan gupta ने कहा…

आपको तथा आपके पूरे परिवार को नए साल की हार्दिक शुभकामनाएँ!

Sulabh Jaiswal "सुलभ" ने कहा…

राजेन्द्र जी, आपको भी
नव-वर्ष की हार्दिक बधाई!!

Deepak Saini ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति..... नये वर्ष २०११ की हार्दिक शुभकामनाएं ..

Bharat Bhushan ने कहा…

सुंदर रचना के साथ नववर्ष का स्वागत हुआ. आपको बधाई.

Anita ने कहा…

आपका सुमधुर गीत सुना, मन उल्लास से भर गया, आपको भी नव वर्ष की शुभकामनाएँ !

वीना श्रीवास्तव ने कहा…

बहुत सुंदर गीत....सुनकर तो और भी अच्छा लगा...
आपको नव वर्ष की बहुत-बहुत बधाई

महेन्‍द्र वर्मा ने कहा…

नमस्कार,
राजेन्द्र भाई,

ईश्वर करे, सभी कामनाएं पूर्ण हों।
........
नव वर्ष 2011
आपके एवं आपके परिवार के लिए
सुख-समृद्धिकारी एवं
मंगलकारी हो।
।।शुभकामनाएं।।

ज्ञानचंद मर्मज्ञ ने कहा…

सुन्दर शब्द चित्र ,मोहक प्रस्तुति !
आपको सपरिवार नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें !
-ज्ञानचंद मर्मज्ञ

Rohit Singh ने कहा…

गीत पढ़ा नहीं सुना सीधे.......बहुत खूब मित्रवर। आपको नया साल मुबारक हो। होता रहे। कुछ नया हो आपका एलबम निकले कामना करता हूं।

वीरेंद्र सिंह ने कहा…

सर जी...
सबसे पहले तो आपको सादर नमस्कार करते हुए नववर्ष की शुभकामनाएँ.
और अब बात आपके लिखे और गाये गीत की ....
नववर्ष के अवसर पर आपका ये सार्थक गीत बहुत पसंद आया. इसके लिए आप मेरी तरफ़ से बधाई के पात्र है.

डॉ टी एस दराल ने कहा…

वाह राजेन्द्र जी ।
गीत पढने में जितना मुश्किल लग रहा था , आपकी आवाज़ में सुनने में उतना ही सरल और मधुर लगा ।
अति उत्तम ।
यह भोर सुहानी भोर हो ।

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत सुन्दर गीत से नए साल का अभिनन्दन

नव वर्ष की शुभकामनाएँ

हरकीरत ' हीर' ने कहा…

सोच रही हूँ कि कितनी मेहनत करते हैं आप पोस्ट पर .....
ये आसमां से गिरते सुनहरे तारे ..
प्राची के पार से दिनकर की पहली किरने ....
इतने कठिन शब्दों को भी कितनी आसानी से स्वर दे देते हैं आप .....
अद्भुत है आपकी प्रतिभा .....
नमन योग्य ....

Parasmani ने कहा…

इसे संगीत बद्ध आप ने ही किया? बहोत अच्छे! आप की आवाझ में कविता जैसे जीवित हो गयी.

mridula pradhan ने कहा…

bahut sunder.

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

राजेन्द्र भैया आनंद आ गया सुनकर... आपको नमन. और दिल से दुआ कि-
"हर भोर, सुहानी भोर हो..."
आमीन.

सूर्य गोयल ने कहा…

राजेन्द्र जी नववर्ष की ढेरो शुभकामनाये और बधाई. बात आपकी पोस्ट की करूँ तो हरकीरत जी हीर ने बिलकुल सही कहा है की आपकी मेहनत की जितनी सराहना की जाये उतनी कम है. आपने इस नववर्ष की बधाई कविता में मानो श्रृष्टि के सभी रंग घोल दिए हो. अति सुन्दर और लाजवाब.

वाणी गीत ने कहा…

हर भोर सुहानी हो ...
नए वर्ष की बहुत शुभकामनायें !

निर्मला कपिला ने कहा…

आवाज और गीत दोनो बहुत ही अच्छे लगे। आपको सपरिवार नये साल की हार्दिक शुभकामनायें।

Amrita Tanmay ने कहा…

चंद सांसे सकून की.............. क्या खूब कही है.......... सुंदर रचना...... नव वर्ष मंगलमय हो........... आपको साधुबाद

डॉ० डंडा लखनवी ने कहा…

नए वर्ष की आपको भी बधाई।
गरम जेब हो और मुंह में मिठाई॥

रहें आप ही टाप लंबोदरों में-
चले आपकी यूँ खिलाई - पिलाई॥

हनक आपकी होवे एस०पी० सिटी सी-
करें खूब फायर हवा में हवाई॥

बढ़ें प्याज के दाम लेकिन न इतने-
लगे छूटने आदमी को रुलाई॥

मियाँ कमसिनों को न कनसिन समझना-
इसी में है इज्जत इसी में भलाई॥

मिले कामियाबी तो बदनामी अच्छी-
सलामत रहो मुन्मियो - मुन्ना भाई॥

सद्भावी-डॉ० डंडा लखनवी

Asha Lata Saxena ने कहा…

happy new year to you
Asha

रंजना ने कहा…

वाह...वाह...वाह...
बहुत सुन्दर मनोकामना....ईश्वर इसे पूर्णता दें ...
रचना सौन्दर्य की तो क्या कहूँ... लाजवाब !!!!

राज एन.के.वी. ने कहा…

नव वर्ष की भीनी-भीनी और ठंडी गुदगुदाने वाली बयार सी अभिव्यक्ति के लिए शुक्रिया आदरणीय राजेंद्र जी ! थोड़ा विलम्ब हुवा आने में आशा है आप माफ़ कर पायेंगे. नववर्ष आप और आपने सम्पूर्ण परिवार के लिए ढेरों खुशियाँ लाये, आपका हर ख्वाब पूर्ण हो, इन्ही प्रर्थानों के साथ मेरा शत-शत प्रणाम भी स्वीकार कीजियेगा. ! नमन !!

अनिल ने कहा…

बहुत सुन्दर

रचना दीक्षित ने कहा…

बहुत अच्छी रचना. आपको सपरिवार नये साल की हार्दिक शुभकामनायें।

Dr Xitija Singh ने कहा…

बहुत खूबसूरत गीत के साथ नए साल का आगाज़ किया है आपने ... आपका बहुत बहुत धन्यवाद

आपको और आपके परिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं

ज्योति सिंह ने कहा…

aapke jeevan ke baare me padhkar khushi hui aur sath hi shish samman me jhuk gaya .hame garv hai aese ratn par ,rachna ati uttam hai ,nav barsh mangalmay ho .